रंग दिन-प्रतिदिन के जीवन में एक प्रमुख भूमिका निभाते हैं। रंग की तरंग दैर्ध्य और आवृत्ति मानव जीवन में इसकी विशेषताओं और इसके उपयोग को परिभाषित करती है। उदाहरण के लिए कई सवाल हमारे मन में आते हैं कि ट्रैफ़िक लाइट में खतरे के लिए रेड का इस्तेमाल क्यों किया जाता है या स्कूल बसें पीले रंग में क्यों रंगी जाती हैं?

स्कूल बसों को केवल पीले रंग से क्यों पेंट किया जाता है?
स्कूल बसों को पेंट करने के लिए पीले रंग का उपयोग क्यों किया जाता है इसका कारण पहले से ही उपरोक्त पैराग्राफ में संकेत दिया गया है, यानी ये वो कलर है जो इंसानी आँखों को सबसे पहले दिखाई देता है और दूर से भी देखने में आ जाता है।

सफेद रंग के विभिन्न घटकों के बीच लाल रंग की तरंग दैर्ध्य अधिकतम (लगभग 650 एनएम) है। यह नीले रंग की तरंग दैर्ध्य कम होती है। इसलिए खतरे के लिए लाल रंग का प्रयोग किया जाता है जिस से कि इसे दूर से देखा जा सके। पीला रंग लाल रंग के नीचे होता है और लाल की तुलना में कम तरंग दैर्ध्य होता है।


लेकिन स्कूल बस पर पीला रंग क्यों?
हालांकि लाल रंग सबसे अधिक ध्यान आकर्षित करता है, यह पहले से ही खतरे के लिए जिम्मेदार ठहराया गया है इसलिए किसी अलग रंग का प्रयोग करने के लिए पीले रंग का इस्तेमाल किया जाता है।

पीले रंग को बारिश, कोहरे और ओस में भी देखा जा सकता है। चूंकि पीले रंग का पार्श्व परिधीय दृष्टि लाल रंग की तुलना में 1.24 गुना अधिक है, यह लाल रंग की तुलना में अधिक दिखाई देता है।

loading...

Related News